जानिए कब, कैसे और क्या हुआ हैदराबाद गैंगरेप मामले में

जानिए कब, कैसे और क्या हुआ हैदराबाद गैंगरेप मामले में

DBN NEWS DESK

इंडिया – हैदराबाद गैंगरेप के चारों आरोपियों को तेलंगाना पुलिस के द्वारा एनकाउंटर कर दिया गया है। चारो आरोपी वहीं मारे गए है जहां इनलोगों ने भेटनरी डॉक्टर के साथ हैवानियत की सारी हदों को पार कर देने वाली घटना को अंजाम दिया था।

आइए अब आपको बताते है कि कैसे ये चारो दरिंदे मारे गए हैं।

दरअसल पुलिस केस मजबूत हो और वह अदालत में केस से जुड़े सभी पहलुओं को रख सके इसके लिए वारदात का रिकंस्ट्रक्शन करती है ।रिकंस्ट्रक्शन में वारदात की जगह आरोपियों को भी ले जाया जाता है और उनलोगों ने कैसे पूरी घटना को अंजाम दिया था इसे अपराधियों द्वारा दोहरा जाता है।

।।खबर एवं विज्ञापन के लिए संपर्क करें 7549852605 पर।।

हैदराबाद रेपकांड के चारों आरोपी 10 दिन के पुलिस रिमांड में थे। 4 दिसंबर को इस केस की जल्द सुनवाई के लिए फास्ट ट्रेक कोर्ट का भी गठन किया गया था। इन चारों आरोपियों का नाम शिवा, नवीन, केश वुलू और मोहम्मद आरिफ था।

आज सुबह तेलंगाना पुलिस चारो आरोपियों को लेकर रिकंस्ट्रक्शन के लिए घटनास्थल पर गई थी। बताया जा रहा है कि पुलिस चारो आरोपियों ने घटना को कैसे अंजाम दिया था इस संबंध में बताने को कह रही थी कि चारो फरार होने की कोशिश करने लगे।

डीसीपी शमशाबाद प्रकाश रेड्डी ने बताया कि साइबराबाद पुलिस ने घटनाओं के अनुक्रम के पुन: निर्माण के लिए आरोपी व्यक्तियों को अपराध स्थल पर लाया था। आरोपियों ने हथियार छीन लिए और पुलिस पर फायरिंग की। आत्मरक्षा में पुलिस ने जवाबी फायरिंग की, जिसमें आरोपी मारे गए।

बता दें कि हैदराबाद के बाहरी इलाके शमशाबाद में 27 नवंबर की रात को चार ट्रक ड्राइवरों और क्लीनर ने मिलकर महिला डॉक्टर के साथ गैंगरेप और पेट्रोल जलाकर मारने जैसे अपराध को अंजाम दिया था।इस घटना के बाद से दोषियों को जल्द से जल्द फांसी की मांग को लेकर देश भर में प्रदर्शन हो रहे थे। सड़क से लेकर संसद तक आरोपियों के लिए मौत की मांगी जा रही थी। आज देश भर में पुलिस जिंदाबाद के नारे लगाए जा रहे हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *