अलीनगर-पकड़ी गॉव निवासी सरफराज मामले में पुलिस पर हुए पथराव मामले में हुई पुलिस हरकत में 7 लोग हुए नामजद 200 अज्ञात पर मामला दर्ज

अलीनगर-पकड़ी गॉव निवासी सरफराज मामले में पुलिस पर हुए पथराव मामले में हुई पुलिस हरकत में 7 लोग हुए नामजद 200 अज्ञात पर मामला दर्ज

डीबीएन न्यूज़ डेस्क।
अलीनगर,दरभंगा।
01.01.2019

साल का अंतिम दिन अलीनगर के लिए कुछ ठीक नही रहा वहीं साल का सुरुआत भी कुछ इस कदर ही रहा।ज्ञात हो कि 31 दिसंबर 2018 को घटी घटना जिसमे सरफराज की मौत आजतक रहस्य ही बना हुआ है पुलिस हर एक बिंदु पर नजर बनाए हुई है जिससे ये साबित हो सके कि सरफराज की मौत सड़क हादसा है या हत्या?
आगे बताते चले कि इसी कड़ी में पुलिस ने जब लास को पोस्टमार्टम के लिए ले जाने के लिए उठाया तो उस समय कुछ असमाजिक तत्वों ने पुलिस पर पथराव व सरकारी गाड़ी को तोड़फोड़ किया जिससे दो पुलिस के जवान भी जख्मी हुए।इसी कड़ी को पुलिस ने आगे बढ़ाते हुए सरकारी गाड़ी को तोड़फोड़, पुलिस पर पथराव, पुलिस कार्य मे बाधा उतपन करने व सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के बाबजूद सड़क जाम करने को लेकर पुलिस ने 7 लोगों को नामजद करते हुए बांकी के 200 अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की है।जिसको लेकर अलीनगर थाना में 126/18 दिनांक (31.12.18) व धारा 147,148,149,188,337,338,427 व 504 IPC लगाई गई है।

ज्ञात हो कि ऐसे मामले में लोगों को एहतियात बरतने की आवश्यकता है जिससे कुछ असामाजिक तत्वों के कारण एक पूरा समाज मुसीबत में न पड़ जाए इसपर ग़ौरो फिक्र की आवश्यकता है। अब देखना ये है कि पुलिस क्या वाकई में सिर्फ शरारती तत्वों को ही नामजद करती है या इसका शिकार भोलीभाली जनता भी होगी।इस को लेकर आमलोगों को भी समझने की आवश्यकता है जब पुलिस किसी घटना को लेकर अपना काम स्वयं कर रही है तो फिर पुलिस के कामों में आखिर बाधा कियूं पैदा की जाए।आज के पुलिस के कामों में बाधा कल पूरे समाज के लिए मुसीबत न बन जाए ऐसे मामले में खुद को भी बचने और संभलने की जरूरत है।

हालांकि पुलिस ने अबतक वो सात नाम सार्वजनिक नही किया है ।


अलीनगर.थाना की पुलिस ने मंगलवार को शराब के नशे में धुत होकर गांव के सड़क पर शरारत करने के क्रम में टिकपट्टी गांव के एक 25 वर्षीय युवक छोटू कुमार देव को दबोच लिया जिसे थाना पर लाया गया त्वरित कार्रवाई के तहत उसे ब्रेथलाईजर से जाँच के लिये बहेड़ा थाना भेज दिया गया है जिसे जांचोपरांत मद्यनिषेध अधिनियम के तहत जेल भेजा जायेगा

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *